Herbal Health

10 Health Benefits of Eating Yoghurt Every Day!
Amazing Health Benefits Of Turmeric Milk
Benefits of Applying Mustard Oil in the Navel
Amazing Health Benefits of Eating Moong Sprouts in the Morning



Home / health / Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

सर्दियों में त्वचा की समस्याएं और बचाव के उपाय

उत्तरी गोलार्ध में मौसमी मौसम हमारी त्वचा में एक बड़ी भूमिका निभाता है, और जब यह गर्म से ठंडे में बदल जाता है, तो आपकी त्वचा में भी बहुत बड़ा बदलाव आएगा। त्वचा के संक्रमण से बचने के लिए आपको सर्दियों में अपनी त्वचा की देखभाल पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होगी।

सर्दियों के मौसम में त्वचा की समस्याएं शरीर के कुछ कार्यों को प्रभावित करती हैं। ठंड का मौसम आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर कर देता है जिसके कारण आपको अपनी त्वचा के साथ और अधिक समस्याएं होने लगती हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि साल के इस समय में अधिक सक्रिय बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने के लिए आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को अधिक मेहनत करने की आवश्यकता होती है।

सर्दियों में अपनी त्वचा की समस्याओं पर ध्यान देना आपके लिए बहुत जरूरी है, खासकर ठंड के दिनों में जब आपको त्वचा संबंधी समस्याएं होने की अधिक संभावना होती है। सिर्फ अपनी त्वचा को असुरक्षित छोड़कर आप काफी नुकसान कर सकते हैं। यह सुनिश्चित करने में देर नहीं हुई है कि आप सर्दियों की त्वचा की समस्याओं का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। यह लेख आपकी त्वचा को जीवंत और चमकदार बनाए रखने के लिए सामान्य सर्दियों की त्वचा की समस्याओं और रोकथाम के सुझावों को कवर करेगा।

सर्दियों में होने वाली त्वचा की सामान्य समस्याएं:
सर्दियों के महीनों के दौरान त्वचा की समस्याएं संभव हैं, भले ही आपकी त्वचा पूरे साल स्वस्थ रहे।

ठंड के मौसम का त्वचा की सेहत पर असर पड़ सकता है, जिससे त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं, जैसे:

1. रूखी त्वचा:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

बढ़ती उम्र के साथ सर्दियों में रूखी त्वचा एक आम त्वचा की समस्या बन जाती है, क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ त्वचा पतली हो जाती है और उतनी नमी सोख नहीं पाती है। ठंडी हवा, कम नमी और तेज हवाएं त्वचा से जरूरी नमी खींचती हैं। शुष्कता और सर्दियों की त्वचा की समस्याएं खराब हो सकती हैं और दरारें और तराजू हो सकती हैं।

शुष्क हवा और नमी की कमी के कारण, त्वचा चिड़चिड़ी और निर्जलित हो जाती है, जिससे खुजली और स्केलिंग होती है। जब त्वचा गर्म हो जाती है, तो यह लाल हो जाती है और सूज जाती है और दर्द हो सकता है। एक्जिमा और सोरायसिस जैसी पुरानी त्वचा की समस्याएं भी ठंडी, शुष्क हवा से बढ़ जाती हैं।

2. एक्जिमा:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

एक्जिमा सर्दियों में त्वचा की आम समस्याओं में से एक है जो खुजली, जलन और सूजन का कारण बनती है। यह त्वचा की लालिमा का कारण भी बन सकता है, जिसके साथ छोटे-छोटे उभार हो सकते हैं जो कभी-कभी दर्दनाक हो सकते हैं। एक्जिमा आमतौर पर एलर्जी से जुड़ा होता है, इसलिए यदि आपको एक्जिमा है, तो आपका डॉक्टर यह पता लगाने की कोशिश करेगा कि आपके भड़कने का कारण क्या है और आप उन ट्रिगर्स से संपर्क कम करने या उन्हें आपको प्रभावित करने से रोकने के तरीकों की सिफारिश करेंगे।

3. मुँहासे:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

मुँहासे त्वचा की सबसे आम समस्याओं में से एक है जो सभी उम्र, जाति और लिंग के लोगों को प्रभावित करती है। सबसे आम प्रकार के मुंहासे, जिसे एक्ने वल्गरिस कहा जाता है, सीबम (त्वचा का प्राकृतिक तेल) के अतिउत्पादन के साथ-साथ छिद्रों के अंदर बढ़ने वाले बैक्टीरिया के कारण होता है, जिसके परिणामस्वरूप सूजन वाले पिंपल्स होते हैं जो दर्दनाक और भद्दे हो सकते हैं।

जबकि आज मुँहासे के इलाज के लिए कई उत्पाद उपलब्ध हैं, त्वचा विशेषज्ञों के लिए बेहतर और अधिक अनुरूप समाधान खोजना हमेशा एक चुनौती रही है।

4. सोरायसिस:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

सोरायसिस प्रचलित त्वचा संक्रमणों में से एक है, लंबे समय तक चलने वाला ऑटोइम्यून रोग जो उभरे हुए, लाल धब्बे के रूप में प्रकट होता है जो चांदी के तराजू से ढके होते हैं। सोरायसिस विकृत और शर्मनाक हो सकता है, लेकिन यह खतरनाक नहीं है। गंभीरता हल्के से लेकर गंभीर तक होती है, और अगर इलाज न किया जाए तो पीड़ितों में अत्यधिक बेचैनी और अवसाद हो सकता है। समय के साथ सोरायसिस के धब्बे मोटे हो सकते हैं या आकार बदल सकते हैं।

सोरायसिस के कई अलग-अलग प्रकार हैं जैसे:

a) प्लाक-टाइप सोरायसिस

बी) गुट्टाट सोरायसिस

सी) उलटा सोरायसिस (जिसे फ्लेक्सुरल भी कहा जाता है)

घ) पुष्ठीय छालरोग

ई) एरिथ्रोडार्मिक या एक्सफ़ोलीएटिव सोरायसिस

नोट: प्रभावित क्षेत्र को खरोंचने से बचें। खरोंचने से त्वचा टूट सकती है और त्वचा के अन्य संक्रमणों का खतरा बढ़ सकता है। प्राकृतिक रेशों से बने कपड़े चुनें जो इस समस्या को रोकने में आपकी मदद करने के लिए अच्छी तरह से सांस लेते हैं।

5. फटे होंठ :-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

होंठ हमारे शरीर के सबसे संवेदनशील अंगों में से एक हैं। ठंड के मौसम में, शुष्क हवा में, और यहां तक ​​कि जब आप तनावग्रस्त होते हैं तब भी वे फट जाते हैं। फटे होंठ भी त्वचा की समस्याओं में एक प्रकार के रूप में माने जाते हैं जिससे त्वचा में दरार आ सकती है, जिसके परिणामस्वरूप कभी-कभी रक्तस्राव हो सकता है। इससे बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप एक अच्छे लिप बाम का इस्तेमाल करें जो आपके होंठों को मुलायम और चिकना बनाए रखेगा। आज बाजार में कई तरह के लिप बाम उपलब्ध हैं।

6. रूसी:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

बहुत से लोग इस बात से अनजान हैं कि डैंड्रफ वास्तव में त्वचा की समस्याओं में से एक है। सर्दियों में डैंड्रफ को रोकना मुश्किल होता है। डैंड्रफ के मुख्य कारणों में से एक है ड्राई स्कैल्प, जो आपके बालों में कम नमी के स्तर के कारण होता है। आम तौर पर, हमारी खोपड़ी हमारे बालों को चमकदार और चिकना बनाए रखने के लिए पर्याप्त प्राकृतिक तेल का उत्पादन करती है। हालांकि, सर्दियों के दौरान नमी का स्तर कम होने के कारण यह सूख जाता है, जिससे अधिक परतदार और रूसी हो जाती है। व्यक्तिगत उपचार प्राप्त करने के लिए इस प्रकार की त्वचा की समस्याओं के लिए त्वचा विशेषज्ञ को देखने की सिफारिश की जाती है।

7. केराटोसिस पिलारिस:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

केराटोसिस पिलारिस (केपी) सर्दियों की सामान्य त्वचा की समस्याओं में से एक है जो ऊपरी बांहों, जांघों या नितंबों पर छोटे, सख्त धक्कों का कारण बनती है। केपी के लिए विशेष रूप से कोई उपचार नहीं हैं। लेकिन अगर आपकी केराटोसिस पिलारिस गंभीर है या आपको परेशान कर रही है, तो केराटोसिस पिलारिस के आपके विशिष्ट मामले के अनुरूप सलाह और उपचार के लिए त्वचा विशेषज्ञ से मिलें।

8. रोसैसिया:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

Rosacea सर्दियों में अक्सर निदान की जाने वाली त्वचा की समस्याओं में से एक है जो चेहरे पर लाली, मुंह, और टक्कर का कारण बनती है, खासकर गाल और ठोड़ी। इससे पीड़ित लोगों के लिए यह अत्यधिक शर्मिंदगी का कारण बन सकता है। Rosacea का इलाज चिकित्सकीय दवाओं और अन्य सरल उपचारों से किया जा सकता है जो लक्षणों में महत्वपूर्ण सुधार लाते हैं।

9. बेजान त्वचा:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

सर्दियों के महीनों के दौरान बेजान, बेजान त्वचा से बदतर कुछ भी नहीं है। त्वचा की समस्याओं से बचने के लिए सर्दियों में त्वचा की देखभाल पर ध्यान देना चाहिए। अपनी सुस्त त्वचा का इलाज करने के लिए, गर्म पानी से बचें क्योंकि यह छिद्रों को खोलता है और आपकी त्वचा से प्राकृतिक तेल निकाल सकता है जो इसे चिकना और स्वस्थ रखता है। इसके बजाय, अपना चेहरा धोने के लिए गर्म या गुनगुने पानी का उपयोग करें ताकि आप आवश्यक तेलों को दूर न करें। हर दिन एक सौम्य फेशियल क्लीन्ज़र का उपयोग करें जिसमें कोई तेज़ सुगंध या परफ्यूम न मिलाए।

10. सूखी और चिड़चिड़ी नाक:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

क्या आपने कभी सोचा है कि सर्दियों में शुष्क और चिड़चिड़ी नाक त्वचा की समस्याओं में से एक हो सकती है? लेकिन ज्यादातर लोगों के लिए सर्दी का मतलब है रूखी त्वचा और नाक में जलन होना। आप जो महसूस नहीं कर सकते हैं वह यह है कि ये मुद्दे एक ही चीज़ के कारण होते हैं: ठंडी हवा! ठंडी हवा न केवल आपकी त्वचा को सुखाती है और आपके होंठों को जकड़ती है, बल्कि यह आपकी नाक को सुखा सकती है और जलन पैदा कर सकती है। परिणाम एक गले में खराश, फटी, असहज नाक है जो पागलों की तरह खुजली करती है। आप हवा में पराग के लिए एलर्जी विकसित कर सकते हैं या नाक बहने के साथ समाप्त हो सकते हैं। सर्दी या फ्लू के कारण भी आपकी नाक शुष्क और चिड़चिड़ी हो सकती है। लेकिन कुछ चीजें हैं जो आप इन त्वचा संक्रमणों को होने से रोकने के लिए कर सकते हैं। नाक गुहाओं को नम रखने के लिए नमकीन घोल का प्रयोग करें। आप अपने दम पर एक स्प्रे बोतल का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन वाणिज्यिक नाक स्प्रे भी उपलब्ध हैं।

11. सर्दी के चकत्ते:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

सर्दी लोगों के लिए त्वचा की समस्याओं जैसे चकत्ते और घावों को विकसित करने का एक सामान्य समय है। हालाँकि यह वह नहीं हो सकता है जो आप सुनना चाहते हैं, यह सच है! शुष्क त्वचा, अपर्याप्त मॉइस्चराइजिंग और सूर्य के बहुत अधिक जोखिम सहित कई कारकों के कारण चकत्ते हो सकते हैं। ऐसे प्राकृतिक उपचार हैं जो आपको प्राकृतिक रूप से सर्दियों में होने वाले रैशेज से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं जैसे एलोवेरा जो एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन और खनिजों से भरपूर होता है जो इसे सर्दियों में होने वाले रैश की अधिकांश समस्याओं के लिए एक बेहतरीन घरेलू उपचार बनाता है।

12. भौंहों में खुजली और पपड़ीदार होना:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

सर्दियों में हर किसी की भौहें खुजली और पपड़ीदार होती हैं। इस प्रकार की त्वचा की समस्याओं के कारण बहुत से लोग उस क्षेत्र को खरोंचते हैं, जिसके परिणामस्वरूप लालिमा या रक्तस्राव भी हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि ठंडा तापमान भौहों के नीचे की त्वचा को शुष्क, खुरदरी, पपड़ीदार और खुजलीदार बनाता है। दरअसल, लंबे समय तक ठंडे मौसम के संपर्क में रहने पर हमारे शरीर के कई अंगों में खुजली होने लगती है। खुजली और पपड़ीदार भौंहों के इलाज के लिए कई तरीके हैं, जिनमें से सबसे आम है अपनी भौंहों को नमीयुक्त रखना।

13. तैलीय त्वचा:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

तैलीय त्वचा सबसे आम त्वचा समस्याओं में से एक है जो कई लोगों को प्रभावित करती है। यह त्वचा को अतिरिक्त सीबम का उत्पादन करने का कारण बनता है, जिससे एक तैलीय रंग बन जाता है। तैलीय त्वचा चिकना महसूस कर सकती है और चमकदार दिख सकती है, विशेष रूप से वसामय ग्रंथियों की उच्च सांद्रता वाले क्षेत्रों में, जैसे कि चेहरा और पीठ।

सीबम, इन ग्रंथियों द्वारा उत्पादित तेल, हमारे बालों को चिकनाई देने में मदद करता है और हमारी त्वचा के लिए एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर के रूप में काम करता है। लेकिन अगर सीबम का उत्पादन नियंत्रण से बाहर हो जाता है, तो अतिरिक्त सीबम छिद्रों में जमा हो जाएगा, जिससे वे बढ़े हुए और चिकना दिखने लगेंगे।

14. यूवी क्षति:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

त्वचा को यूवी नुकसान सर्दियों में त्वचा की सबसे आम समस्याओं में से एक है। सर्दियों के आगमन के साथ, लोग आमतौर पर अपनी त्वचा को ठंड के मौसम से बचाने के लिए भारी कपड़े, टोपी और दस्ताने पहन लेते हैं। यद्यपि वे जमने से रोक सकते हैं, जब वे घर के अंदर आते हैं, तब भी त्वचा कृत्रिम प्रकाश से हानिकारक यूवी किरणों के संपर्क में रहती है।

वास्तव में, सर्दियों में यूवी क्षति से प्रभावित होना आसान होता है क्योंकि सूर्य के प्रकाश की कमी से आपके शरीर के लिए विटामिन डी का उत्पादन करना मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा, इस मौसम के दौरान कई इनडोर गतिविधियां होती हैं जो पराबैंगनी विकिरण के जोखिम को बढ़ाती हैं, जिससे त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। उदाहरण के लिए: कंप्यूटर स्क्रीन के सामने पढ़ना या फ्लोरोसेंट लाइटिंग वाले कार्यालय में काम करना। यूवी किरणें समय से पहले त्वचा की उम्र बढ़ने और झुर्री, चमड़े की त्वचा, यकृत के धब्बे, एक्टिनिक केराटोसिस और सौर इलास्टोसिस जैसे सूरज की क्षति के लक्षण पैदा कर सकती हैं।

15. खुजली:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

इस बात से तो सभी वाकिफ हैं कि खुजली सर्दियों में होने वाली त्वचा की सबसे आम समस्याओं में से एक है। यह आपकी त्वचा पर तीव्र खुजली का वह भयानक अहसास है। सर्दियों में लोगों को घर या शरीर में नमी की कमी, शुष्क हवा या मृत त्वचा कोशिकाओं और बैक्टीरिया के कारण खुजली शुरू हो जाती है जो गर्मियों के दौरान हमारे शरीर पर जमा हो जाते हैं और हमारे छिद्रों में चले जाते हैं जो पानी से पूरी तरह से नहीं धोए जा सकते हैं जो पूरे समय वहीं रहते हैं। वर्ष, जब वे सक्रिय हो जाते हैं तो खुजली होती है।

खुजली जैसी त्वचा की समस्याओं से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका सिंक या बाथटब में धोने के बजाय ह्यूमिडिफायर का उपयोग करना और शॉवर लेना है। गर्म पानी आपके रोमछिद्रों को खोल देगा, जिससे आप मृत त्वचा कोशिकाओं को एक्सफोलिएट कर पाएंगे जो आपको बहुत परेशान कर रही हैं।

16. फटी एड़ियां:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

फटी एड़ी सर्दियों में अक्सर सुनाई देने वाली त्वचा की समस्याओं में से एक है, खासकर उन लोगों के लिए जो ज्यादातर समय घर के अंदर रहते हैं। वे दर्दनाक हो सकते हैं और जूते पहनने में असहजता महसूस कर सकते हैं। फटी एड़ियों और अन्य त्वचा संक्रमणों को रोकने के लिए कई घरेलू उपचार हैं, जिन्हें आप महंगे पेडीक्योर क्लीनिक पर पैसे खर्च करने के बजाय आजमा सकते हैं।

आपको त्वचा से नमी को दूर करने वाले ऊन या सिंथेटिक सामग्री से बने मोज़े पहनकर अपने पैरों को हर समय सूखा रखना चाहिए। चड्डी से बचें क्योंकि वे आपके पैरों के आसपास हवा को प्रसारित नहीं होने देते हैं, जिससे आपकी त्वचा से पसीना निकलना मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा, बहुत टाइट जूते पहनने से बचें, क्योंकि इससे अंदर हवा का प्रवाह आसान होता है, जिससे त्वचा के संक्रमण दूर रहते हैं।

17. त्वचा में छोटी-छोटी दरारें:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

हम सभी जानते हैं कि सर्दियां ठंडी होती हैं, लेकिन यह सिर्फ ठंड ही नहीं है जो रूखी त्वचा जैसी त्वचा की समस्याओं का कारण बनती है। यह वास्तव में त्वचा में सूक्ष्म दरारों के कारण होता है। ये हेयरलाइन दरारें सर्दियों के महीनों के दौरान त्वचा, बालों और नाखूनों में पानी और तेल की कमी के कारण होती हैं। अत्यधिक तापमान से खुद को बचाने के लिए शरीर में नमी बनी रहती है। इसलिए जब आपका शरीर समय के साथ नमी खो देता है, तो आप अपने चेहरे, हाथों या पैरों पर ये छोटी-छोटी दरारें आसानी से दिखने लगेंगे।

यदि इन दरारों का तुरंत इलाज नहीं किया जाता है, तो वे बैक्टीरिया और रोगजनकों के साथ त्वचा में संक्रमण का कारण बन सकते हैं, जिससे त्वचा की अन्य समस्याएं हो सकती हैं। इस समस्या को ठीक करने के कई तरीके हैं। इनमें पानी का सेवन बढ़ाने और अधिक मॉइस्चराइजिंग करने के लिए अपना आहार बदलना शामिल है। बचाव ही सबसे अच्छा तरीका है, इसलिए गर्म रहें और त्वचा की समस्याओं से पूरी तरह बचें!

18. खुजली, सूखे और लाल धब्बे:-

Skin Problems and Prevention's Tips In Winter

सर्दियों में बहुत से लोगों की त्वचा पर खुजली, रूखे और लाल धब्बे हो जाते हैं। यह सर्दी या ठंड के मौसम में सबसे अधिक देखी जाने वाली त्वचा की समस्याओं में से एक है। इतनी ठंडी हवा के संपर्क में आने पर, त्वचा अपनी प्राकृतिक नमी और तेल खो देती है और खुजली, सूखे और लाल धब्बे का कारण बनती है। इन लक्षणों को शरीर में विटामिन ए और जिंक की कमी या किसी ऐसी चीज से एलर्जी की प्रतिक्रिया के लिए भी जिम्मेदार ठहराया जाता है जिसे आमतौर पर हानिरहित या अन्य पर्यावरणीय कारक और जीवन शैली कारक माना जाता है।

 

=============

* स्थायी रूप से सेहत बनाने के लिए चेतन हर्बल्स   द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक दवा सेहतप्राश  मंगा सकते है। Chetan Herbals'  Sehatprash also available on  AmazonFlipkartShopcluesgoaayushherbalpitaraswasthyashopee !

sehat prash ayurvedic weight gainer

============= 

*  रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के  लिए  चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित शुद्ध आयुर्वेदिक अश्वगन्धा मंगा सकते हैं। Chetan Herbals' Ashwagandha Also Available On Flipkart, herbalpitara, swasthyashopee !

ashwagandha chetan herbals

============= 

*  अब हर तरह की खांसी होगी छूमंतर! चेतन हर्बल्स द्वारा बनाई गई कफ मोचक सिरप मगाइये खांसी को दूर करिये, Chetan Herbals' Kaff Mochak Syrup is available On https://www.chetanherbals.com/ !

Kaff Mochak Syrup

=============

* जोड़ो के दर्द से हमेशा हमेशा के लिए छुटकारा पाने के लिए आप आयुर्वेदिक दवा दर्द मोचक तेल मंगा सकते है। Dard Mochak Oil is also available On Amazon, Flipkart, swasthyshopee, Shopclues !

============= 

*  इम्युनिटी बूस्ट करने की लिए चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित  तुलसी-टी अभी मगाएं! Chetan Herbals'  Tulsi-T Is Also Available On Amazon swasthyashopee !

Tulsi-T

============= 

* कब्ज,पाचन और पेट की समस्या दूर करने के लिए    चेतन हर्बल्स द्वारा उत्पादित त्रिफला चूर्ण अभी मगाएं! Chetan Herbals' Triphla Churn Also Available on goaayush, herbalpitara, vocalforlocalshop !

Triphla Churn

============= 

* मधुमेह नियंत्रित करने के लिए चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित लाभदायक आयुर्वेदिक दवा महा मोचक मंगा सकते है। Mha Mochak Also Available On flipkart !

Mha Mochak

=============

*  मेमोरी बूस्ट करने के लिए चेतन हर्बल्स   द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक दवा मेमोरी प्राश  मंगा सकते है।

memory prash for increase your brain power

=============

                                                                                                                                                                                                                                                                                                                             

                                                                                                                                                                                                                                        chetan herbals md

Share This Post :




Top 10 Posts

Health Benefits of Ghee

घी के स्वास्थ्य लाभ घी एक भारतीय शब्द है जो स्पष्ट मक्खन को…Read more

Benefits of Eating Sprouts That You Must Know

अंकुरित अनाज खाने के फायदे जो आपको जरूर जानना चाहिए   हम…Read more

 Superb Health Benefits Of Morning Walk

मॉर्निंग वॉक के शानदार स्वास्थ्य लाभ मधुमेह, हृदय रोग, अस्थमा,…Read more

 Health Precautions For Health During Rainy Season

बरसात के मौसम में सेहत के लिए बरती जाने वाली सावधानियां टिप…Read more

Health Benefits Of Cashew Nuts

काजू के स्वास्थ्य लाभ काजू  विभिन्न भारतीय व्यंजनों में…Read more

Motivating Ways To Conquer Workout Challenges

कसरत की चुनौतियों पर विजय पाने के लिए प्रेरित करने के तरीके…Read more

अश्वगंधा के 12 सिद्ध स्वास्थ्य लाभ Health Benefits of Ashwagandha, अश्वगंधा एक प्राचीन औषधीय जड़ी बूटी है। Ashwagandha is an ancient medicinal herb

अश्वगंधा एक प्राचीन औषधीय जड़ी बूटी है। यह मस्तिष्क समारोह,…Read more

Health Benefits Of Banana Flowers

केले के फूल के स्वास्थ्य लाभ: केले के फूल में औषधीय गुण होते…Read more

''शिलाजितप्राश'' स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी है। खास तौर पर पुरुषों के लिए आयुर्वेद का तोहफा है | Shilajit prash for men sexual health

पुरुषो के लिए वरदान है ''शिलाजितप्राश'' ''शिलाजितप्राश''…Read more

Health Benefits Of Yoga

योग के स्वास्थ्य लाभ योग एक आध्यात्मिक, मानसिक और शारीरिक अभ्यास…Read more

App Install