Herbal Health

Health Benefits Of Cinnamon
 Incredible Health Benefits Of Coconut Water
Health Benefits of Kiwi Fruit
Excellence Health benefits of Parwal



Home / health / Amazing Health Benefits Of Giloy

Amazing Health Benefits Of Giloy


गिलोय के अद्भुत स्वास्थ्य लाभ

अपने आप को ठीक करने के लिए प्राकृतिक चिकित्सा में शांति की लहर खोजने के लिए फिर से समय है। कई अध्ययनों के आधार पर, आयुर्वेद उपचार को भारत और दुनिया भर में उपचार का सबसे अच्छा प्राकृतिक रूप माना जाता है।

आयुर्वेद में, गिलोय को विभिन्न बुखार और अन्य स्थितियों के उपचार के लिए सबसे अच्छी दवा में से एक माना जाता है। गिलोय तीन अमृत पौधों में से एक है। अमृत ​​का अर्थ है। अमरता का मूल। इसलिए, इसे संस्कृत में अमृतवल्ली या अमृता भी कहा जाता है।

गिलोय क्या है?

गिलोय को वैज्ञानिक रूप से हिंदी में टीनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया या गुडूची के नाम से जाना जाता है। गिलोय के तने को इसकी उच्च पोषण सामग्री और इसमें पाए जाने वाले एल्कलॉइड्स के कारण अत्यधिक प्रभावी माना जाता है, लेकिन जड़ और पत्तियों का भी उपयोग किया जा सकता है।

चरक संहिता के एक श्लोक के अनुसार, गिलोय कड़वे स्वाद वाली मुख्य जड़ी-बूटियों में से एक है। इसका उपयोग विभिन्न विकारों में किया जाता है और वात और कफ दोष को कम करने में भी मदद करता है।

गिलोय को इसके दिल के आकार के पत्तों और इसके लाल रंग के फल से इसका नाम हार्ट-लीक्ड चांदनी मिला।

गिलोय के औषधीय गुण क्या हैं?

गिलोय के तने को इसकी उच्च पोषण सामग्री और इसमें पाए जाने वाले एल्केलॉइड्स, ग्लाइकोसाइड्स, स्टेरॉयड और अन्य यौगिकों के कारण अत्यधिक प्रभावी माना जाता है, लेकिन जड़ और पत्तियों का भी उपयोग किया जा सकता है।

गिलोय में मौजूद इन यौगिकों में विभिन्न विकार, जैसे मधुमेह, कैंसर, न्यूरोलॉजिकल समस्याएं, बुखार आदि के खिलाफ प्रभावी हैं।

गिलोय का सेवन कैसे करें?

आयुर्वेद के अनुसार, गिलोय का सेवन या तो चूर्ण के रूप में किया जा सकता है या कढ़ा (काढ़ा) या रस के रूप में भी किया जा सकता है। आजकल यह कैप्सूल और रेडीमेड पाउडर में भी उपलब्ध है। गिलोय त्वचा की समस्याओं के लिए एक पेस्ट के रूप में भी शीर्ष पर लागू होता है।

गिलोय की नियमित खुराक एक चम्मच है, दिन में दो बार ली जाती है। स्वास्थ्य समस्या के प्रकार के आधार पर खुराक भिन्न हो सकती है।

गिलोय जूस कैसे तैयार करें?

गिलोय का रस तैयार करने के लिए, आपको पौधे की कुछ साफ, कटी हुई शाखाओं की आवश्यकता होती है। इन कटी हुई शाखाओं को बारीक, हरे तरल पेस्ट में एक कप पानी के साथ मिश्रित करें। अब गिलोय का रस बनाने के लिए इस हरे पेस्ट को छलनी से छान लें।

गिलोय के स्वास्थ्य लाभ

गिलोय एक मजबूत इम्युनिटी बूस्टर, एंटी-टॉक्सिक, एंटीपायरेटिक (जो बुखार को कम करता है), एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सिडेंट है। यह शास्त्रीय चिकित्सा सभी स्वास्थ्य विसंगतियों का अंतिम उत्तर है।

 जीर्ण ज्वर के लिए गिलोय:-

आयुर्वेद में, दो कारकों में बुखार होता है - अमा (अनुचित पाचन के कारण शरीर में विषाक्त रहता है) और दूसरा कुछ विदेशी कणों के कारण होता है। गिलोय जीर्ण, आवर्तक बुखार में अद्भुत कार्य करता है। यह एक विरोधी भड़काऊ, एंटीपीयरेटिक जड़ी बूटी है जो संक्रमण से लड़ने के लिए आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करता है और जल्दी ठीक होने में भी मदद करता है। गिलोय में ज्वरघ्न (ज्वरनाशक) गुण होता है जो बुखार को कम करता है।

कैसे उपयोग करें - गिलोय के रस के 2-3 बड़े चम्मच और पानी की समान मात्रा लें। इन्हें अच्छे से मिलाएं। इस मिश्रण को रोजाना सुबह खाली पेट पिएं।

डेंगू बुखार के लिए गिलोय:-

गिलोय एक ज्वरनाशक जड़ी बूटी है। यह डेंगू बुखार में प्लेटलेट काउंट में सुधार करता है और जटिलताओं की संभावना को कम करता है। गिलोय के नियमित सेवन से डेंगू के दौरान प्रतिरक्षा में सुधार करने में मदद मिलती है और तेजी से रिकवरी के लिए भी। बेहतर परिणामों के लिए गिलोय के रस को तुलसी के कुछ पत्तों के साथ उबालें और प्लेटलेट काउंट बढ़ाने के लिए पिएं।

उपयोग कैसे करें - गिलोय के ताजे डंठल का रस निकालें और इसे 5-7 तुलसी के पत्तों के साथ मिलाएं और 1/2 कप पानी के साथ उबालें और इसे रोजाना पियें। यह प्लेटलेट काउंट बढ़ाने में मदद करता है

घास बुखार के लिए गिलोय:-

गिलोय को हेय बुखार में एलर्जी राइनाइटिस के रूप में भी बहुत उपयोगी है। यह बहती नाक, छींकने, नाक में रुकावट, आंखों में पानी आना जैसे लक्षणों को कम करता है। तापमान को कम करने के लिए, with चम्मच गिलोय पाउडर को शहद के साथ मिलाकर भोजन से पहले खाएं।

कैसे करें इस्तेमाल- तापमान को कम करने के लिए 1 चम्मच गिलोय पाउडर को शहद के साथ मिलाकर भोजन से पहले खाएं।

कोरोना-वायरस संक्रमण के लिए गिलोय:-

गिलोय प्रतिरक्षा को बढ़ावा दे सकता है इसलिए यह विभिन्न बुखार के लिए विशेष रूप से वायरल बुखार जैसे कोरोना संक्रमण के लिए उपयोगी हो सकता है। हालांकि इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि गिलोय कोरोना संक्रमण को ठीक कर सकता है लेकिन यह इसके खिलाफ लड़ने के लिए आपकी प्रतिरक्षा बढ़ा सकता है। कुछ वैज्ञानिक अध्ययनों के अनुसार, परिणाम कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आशाजनक परिणाम दिखाते हैं।

इसका उपयोग कैसे करें - आप गिलोय कढ़ा या गिलोय का रस प्रति दिन दो बार 4-6 सप्ताह तक ले सकते हैं। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि गिलोय और अश्वगंधा का संयोजन आपको इस घातक संक्रमण के खिलाफ एक कवच प्रदान कर सकता है।

ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करता है:-

आयुर्वेद में, गिलोय को 'मधुनाशिनी' के रूप में जाना जाता है जिसका अर्थ है 'चीनी को नष्ट करना'। यह इंसुलिन के उत्पादन को बढ़ाने में मदद करता है जो अंततः रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है। गिलोय मधुमेह की जटिलताओं जैसे अल्सर, किडनी की समस्याओं के लिए भी उपयोगी है।

कैसे करें इस्तेमाल - दोपहर और रात के खाने के बाद दिन में दो बार गिलोय पाउडर का 1/2 चम्मच पानी के साथ लें।

* मधुमेह नियंत्रित करने के लिए चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित लाभदायक आयुर्वेदिक दवा महा मोचक मंगा सकते है। Mha Mochak Also Available On flipkart !

प्रतिरक्षा को बढ़ाता है:-

इस जड़ी बूटी ने हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को सक्रिय किया और एक व्यक्ति में जीवन शक्ति को बढ़ाया। दिन में दो बार अपने आहार में गिलोय का रस या कढ़ा शामिल करें, इससे आपकी प्रतिरक्षा में सुधार हो सकता है। यह एंटीऑक्सिडेंट से भरा हुआ है और शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। गिलोय का रस आपकी त्वचा को डिटॉक्स करता है और आपकी त्वचा को बेहतर बनाता है। गिलोय का उपयोग यकृत रोगों, मूत्र पथ के संक्रमण और दिल से संबंधित मुद्दों के लिए भी किया जाता है।

कैसे करें इस्तेमाल- 2-3 चम्मच गिलोय का रस लें। इसमें समान मात्रा में पानी मिलाएं और इसे मिलाएं। अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने के लिए दिन में एक या दो बार भोजन से पहले इसे अधिमानतः पिएं।

*  इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाने के  लिए  चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित शुद्ध आयुर्वेदिक अश्वगन्धा मंगा सकते हैं। Chetan Herbals' Ashwagandha Also Available On Flipkart, herbalpitara, swasthyashopee !

पाचन में सुधार:-

गिलोय पाचन में सुधार करता है और पाचन संबंधी समस्याओं जैसे डायरिया, कोलाइटिस, उल्टी, उच्च रक्तचाप, आदि को कम करता है।

कैसे करें इस्तेमाल - 1 चम्मच गिलोय पाउडर को 1 गिलास गुनगुने पानी में दिन में दो बार लें।

* कब्ज,पाचन और पेट की समस्या दूर करने के लिए    चेतन हर्बल्स द्वारा उत्पादित त्रिफला चूर्ण अभी मगाएं! Chetan Herbals' Triphla Churn Also Available on goaayush, herbalpitara, vocalforlocalshop

 

तनाव और चिंता को कम करता है:-

मानसिक तनाव और चिंता को कम करने के लिए गिलोय एक उत्कृष्ट उपाय है। यह आपके शरीर को शांत करता है। गिलोय में याददाश्त और संज्ञानात्मक कार्यों को बढ़ाने की शक्ति भी होती है।

कैसे उपयोग करें - गिलोय रस के 2-3 चम्मच और पानी की समान मात्रा लें। इसे दिन में एक बार सुबह खाली पेट पिएं।

गठिया और गाउट का इलाज करता है:-

गिलोय में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-गठिया गुण होते हैं जो गठिया और गाउट को कम करने में मदद करते हैं। जोड़ों के दर्द के लिए गिलोय पाउडर को गर्म दूध के साथ सेवन करें।

कैसे करें इस्तेमाल - जोड़ों के दर्द के लिए गिलोय पाउडर को गर्म दूध के साथ सेवन करें।

* जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप आयुर्वेदिक दवा दर्द मोचक तेल मंगा सकते है। Dard Mochak Oil is also available On Amazon, Flipkart, swasthyshopee, Shopclues !

आंखों की दृष्टि में सुधार:-

गिलोय शीर्ष रूप से लगाने पर आंखों की दृष्टि में सुधार करने के लिए बहुत प्रभावी है। यह आमतौर पर पंचकर्म में उपयोग किया जाता है।

कैसे करें इस्तेमाल- आपको गिलोय पाउडर या गिलोय के पत्तों को पानी में उबालकर ठंडा करने के बाद इसे आंखों पर लगाना होगा।

===================================

* इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाने के  लिए  चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित शुद्ध आयुर्वेदिक अश्वगन्धा मंगा सकते हैं। Chetan Herbals' Ashwagandha Also Available On Flipkart, herbalpitara, swasthyashopee !

* कब्ज,पाचन और पेट की समस्या दूर करने के लिए    चेतन हर्बल्स द्वारा उत्पादित त्रिफला चूर्ण अभी मगाएं! Chetan Herbals' Triphla Churn Also Available on goaayush, herbalpitara, vocalforlocalshop !

 

===================================

* मधुमेह नियंत्रित करने के लिए चेतन हर्बल्स द्वारा निर्मित लाभदायक आयुर्वेदिक दवा महा मोचक मंगा सकते है। Mha Mochak Also Available On flipkart !

===================================

जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप आयुर्वेदिक दवा दर्द मोचक तेल मंगा सकते है। Dard Mochak Oil is also available On Amazon, Flipkart, swasthyshopee, Shopclues

===================================

* कब्ज,पाचन और पेट की समस्या दूर करने के लिए    चेतन हर्बल्स द्वारा उत्पादित त्रिफला चूर्ण अभी मगाएं! Chetan Herbals' Triphla Churn Also Available on goaayush, herbalpitara, vocalforlocalshop

===================================

                                                                           

Share This Post :




Top 10 Posts

सक्रिय और अपने जीवन में बहुत अच्छा महसूस करें? Ways To Be Active And Feel Great in your Life

  सक्रिय रहें और अपने जीवन में बहुत अच्छा महसूस करें सक्रिय…Read more

Health Benefits of Kiwi Fruit

कीवी फल के स्वास्थ्य लाभ कीवी फल वास्तव में एक बड़ा बेरी…Read more

Health Benefits Of Mint /Pudina Leaves

पुदीना के स्वास्थ्य लाभ पुदीना या मेंथा वैश्विक व्यंजनों में…Read more

Natural Cure For Arthritis

गठिया के लिए प्राकृतिक इलाज गठिया एक संयुक्त विकार है जिसमें…Read more

Amazing Health Benefits Of Giloy

गिलोय के अद्भुत स्वास्थ्य लाभ अपने आप को ठीक करने के लिए प्राकृतिक…Read more

Benefits of Eating Sprouts That You Must Know

अंकुरित अनाज खाने के फायदे जो आपको जरूर जानना चाहिए   हम…Read more

Astonishing Health Benefits Of Curry Leaves

करी पत्ते के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ भारत में करी पत्ते (मुरैना…Read more

Incredible Health Benefits Of Apple

सेब के अविश्वसनीय स्वास्थ्य लाभ "एक सेब एक दिन डॉक्टर को…Read more

Benefits Of Green Beans

ग्रीन बीन्स के फायदे ग्रीन बीन्स आम बीन परिवार, फेजोलस वल्गरिस…Read more

Smoking Increase The Risk Of COVID-19

धूम्रपान से बढ़ता है COVID-19 का खतरा COVID-19 ने लोगों का ध्यान…Read more

App Install